एलोवेरा के फायदे | Benefits of Aloe vera in hindi | Aloe vera ke fayde

Share It

एलोवेरा के फायदे मे हम जानते है की, एलोवेरा एक लोकप्रिय औषधीय पौधा है जिसका उपयोग लोग हजारों वर्षों से करते आ रहे हैं।

एलोवेरा, या एलो बारबाडेंसिस, एक मोटा, छोटे तने वाला पौधा है जो अपनी पत्तियों में पानी जमा करता है। यह त्वचा की चोटों के इलाज के लिए सबसे अच्छी तरह से जाना जाता है, लेकिन इसके कई अन्य उपयोग भी हैं जो संभावित रूप से स्वास्थ्य को लाभ पहुंचा सकते हैं। तो आज हम जानते है एलोवेरा के फायदे के बारेमे विस्तार मे।

एलोवेरा के फायदे

तो चलिये जानते है एलोवेरा के फायदे के फायदे के बारे मे। एलोवेरा एलो के पौधों की पत्तियों का जेल है। त्वचा को ठीक करने और मुलायम बनाने के लिए लोग इसका इस्तेमाल हजारों सालों से करते आ रहे हैं। मुसब्बर(एलोवेरा) लंबे समय से कब्ज और त्वचा विकारों सहित कई बीमारियों के लिए एक लोक उपचार रहा है। एलोवेरा के लाभों में आधुनिक समय के शोध मिश्रित हैं, कुछ सबूतों से पता चलता है कि यह प्रयोगशाला जानवरों में कैंसर का कारण बन सकता है।

एलोवेरा के फायदे

ऐसे कोई खाद्य पदार्थ नहीं हैं जिनमें एलोवेरा होता है, इसलिए इसे पूरक या जेल के रूप में लेना चाहिए।

एलोवेरा के कुछ रूप दूसरों की तुलना में अधिक सुरक्षित होते हैं, और पुराने उपयोग को हतोत्साहित किया जाता है।

एलोवेरा का उपयोग: ( Aloe Vera Uses)

अनुसंधान कम से कम विशिष्ट स्थितियों के लिए, त्वचा उपचार के रूप में सामयिक एलोवेरा के प्राचीन उपयोग का समर्थन करता है। अध्ययनों से पता चला है कि एलो जेल त्वचा की स्थितियों के उपचार में प्रभावी हो सकता है, जिसमें शामिल हैं:

  • सोरायसिस   ( Psoriasis)
  • सेबोरहाइया  (Seborrhea)
  • रूसी (Dandruff)
  • छोटे मोटे जख्म (Minor burns)
  • त्वचा पर खरोंच (Skin abrasions)
  • विकिरण से घायल त्वचा  (Skin injured by radiation)
  • हरपीज घाव (Herpes sores)
  • मुंहासा (Acne)
  • गुदा विदर (Anal fissures)

इस बात के भी पुख्ता सबूत हैं कि एलो जूस, जिसमें लेटेक्स होता है, मुंह से लिया जाता है, एक शक्तिशाली रेचक है। वास्तव में, मुसब्बर(एलोवेरा) का रस एक बार ओवर-द-काउंटर कब्ज दवाओं में बेचा जाता था। लेकिन क्योंकि मुसब्बर(एलोवेरा) की सुरक्षा अच्छी तरह से स्थापित नहीं थी, एफडीए ने 2002 में आदेश दिया कि एलोवेरा युक्त ओवर-द-काउंटर जुलाब को या तो सुधारित किया जाए या स्टोर अलमारियों से हटा दिया जाए।

एलोवेरा जेल मौखिक रूप से (मुंह से) लिया जाता है जो मधुमेह वाले लोगों में रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करता है। यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद कर सकता है। अन्य चिकित्सीय स्थितियों के लिए एलोवेरा अध्ययन के परिणाम कम स्पष्ट रहे हैं।

aloe vera

एलोवेरा के खतरे: (Aloe Vera Risks)

अभी हमने एलोवेरा के फायदे के बारे मे जाना अब हम जानते है की इसका इस्तेमाल करने मे कितना खतरा है। एलोवेरा का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें। शोधकर्ताओं ने एलोवेरा के पुराने उपयोग के खिलाफ चेतावनी दी है। लेकिन अगर एलो उत्पाद एलोइन से मुक्त है – पौधे का एक अर्क जो चूहों में कोलोरेक्टल कैंसर का कारण पाया गया है – यह सनबर्न के लिए एक सामयिक उपाय के रूप में ठीक हो सकता है। एलोवेरा के पौधे की बाहरी पत्ती और अंदर के गूदे के बीच एलोइन पाया जाता है।

  • दुष्प्रभाव (Side effects): सामयिक एलोवेरा आपकी त्वचा को परेशान कर सकता है। मौखिक मुसब्बर, जिसमें रेचक प्रभाव होता है, ऐंठन और दस्त का कारण बन सकता है। इससे उन लोगों के रक्त में इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन हो सकता है जो कुछ दिनों से अधिक समय तक मुसब्बर का सेवन करते हैं। यह कोलन को भी दाग सकता है, जिससे कोलोनोस्कोपी के दौरान कोलन को अच्छी तरह से देखना मुश्किल हो जाता है। इसलिए कोलोनोस्कोपी कराने से पहले एक महीने तक इससे बचें। सामयिक या मौखिक उपयोग के लिए एलो जेल, एलोइन से मुक्त होना चाहिए, जो जठरांत्र संबंधी मार्ग में जलन पैदा कर सकता है।
  • जोखिम ( Risks): गहरे कट या गंभीर जलन पर सामयिक एलोवेरा न लगाएं। जिन लोगों को लहसुन, प्याज और ट्यूलिप से एलर्जी है, उन्हें एलो से एलर्जी होने की संभावना अधिक होती है। मौखिक मुसब्बर की उच्च खुराक खतरनाक हैं। यदि आपको आंतों की समस्या, हृदय रोग, बवासीर, गुर्दे की समस्या, मधुमेह, या इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन है तो एलोवेरा का सेवन न करें।
  • बातचीत (Interactions):  यदि आप नियमित रूप से कोई भी दवा लेते हैं, तो एलो सप्लीमेंट का उपयोग शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें। वे मधुमेह की दवाओं, हृदय की दवाओं, जुलाब, स्टेरॉयड और नद्यपान जड़ जैसी दवाओं और पूरक के साथ बातचीत(Interactions) कर सकते थे। एलोवेरा जेल का मौखिक उपयोग भी उसी समय ली गई दवाओं के अवशोषण को अवरुद्ध कर सकता है।
  • इसकी सुरक्षा के बारे में सबूतों की कमी को देखते हुए, एलोवेरा की खुराक का उपयोग बच्चों और गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं द्वारा मौखिक रूप से नहीं किया जाना चाहिए।

यह कुछ एलोवेरा के फायदे के बारे मे और खतरे के बारे मे हमने आपको बताया। और अगर आप इसका इस्तमाल करना चाहते है तो इसका इस्तमाल कम मात्र मे कीजिये। और अगर ज्यादा मात्र मे करना चाहते है तो पहले अपने निजी डॉक्टर की सलाह जरूर लीजिये। हमने हमारी जानकारी के अनुसार आपको एलोवेरा के फायदे और खतरे के बारे मे बताया है।

होम पेजयहाँ क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published.

कुछ Health Tips जो आपकी लाइफ बदलदे घर पर अंडा बिरयानी कैसे बनाए कई बीमारियो से दूर रखेगी आपको ये Health tips महिलाओं के बालों के झड़ने के बारे में चौंकाने वाला सच नकारात्मक विचारों को दूर करें और वजन कम करें एलोवेरा के फायदे कच्चा प्याज खाने वाले यह जरूर जानले चना खाने का सही तरीका कॉफी पीने के नुकसान कॉफी पीने के फायदे बादाम खाने के अनगिनत फायदे काली मिर्च के फायदे ग्रीन टी के फायदे चाय पीने के नुकसान दुनिया के सबसे स्वस्थ खाने!