काली मिर्च के फायदे । Benefits of Black Pepper | Benefits of Kali Mirch in hindi

Share It

आज हम बात करेंगे काली मिर्च के फायदे के बारे में। ब्लैक पेपर यानी की काली मिर्च जो कुकिंग में उपयोग करने वाला मसाला भी है, और बहुत से रोगों को ठीक करने की दवा भी। इस मसाले के चर्चेय स्वाद को एंजॉय करते हुए इंसान बहुत सी बीमारियों से अपने आप को बचा भी सकता है, और उन्हें ठीक भी कर सकता है। यह एक ऐसा मसाला है कि इनमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफलामोटरी(anti –inflammatory) प्रॉपर्टीज पाई जाती है।

काली मिर्च साबूदाना और पाउडर दोनों फॉर्म में मिलती है। लेकिन हमें साबुत लेकर घर में ही पीसना चाहिए क्योंकि मिलावट की कोई गुंजाइश ना रहे। तो आइए जानते हैं काली मिर्च के फायदे के बारेमे और यह हमारी हेल्थ के लिए कैसे बढ़िया है। इसके गुणों का पूरा फायदा लेने के लिए इस को कैसे इस्तेमाल किया जाए।

काली मिर्च के फायदे :

पाचन के लिए:

काली मिर्च के फायदे मे सबसे पेहले हम जानेगे बदहजमी यानि की पाचन न होना बहुत सारी बीमारियों की जड़ है। लेकिन अगर काली मिर्च को आप अपने भोजन में शामिल करते हो तो यह मेटाबॉलिक रेट को बढ़ा कर खाने को पाचन करने में मदद करेगी। इसे आप सब्जी, दाल, चावल, जूस किसी में भी ले सकते हैं। लेकिन इसके गुणों का पूरा फायदा उठाने के लिए कुकिंग के बाद ही इसे खाने में शामिल करें।

सलाद जब भी खाएं तो नमक को अवॉइड कीजिए और नींबू और काली मिर्च डाल के खाये। और हो सके तो काली मिर्च को फ्रेश ही पीरसे इससे इसका स्वाद और फेवर दोनों बढ़िया रहेगा।

भूख लगने मे उपयोगी:

भूख ना लगने की स्थिति में काली मिर्च का सेवन भी बहुत फायदेमंद है। इसमें काफी ऐसी प्रॉपर्टीज होती है, जो गैस को नहीं बनने देती। पेट दर्द हो या पेट में गैस हो तो तुरंत 8  से 10 दाने काली मिर्च के पीस कर उसे गर्म नींबू पानी में डालकर पिए, आपको तुरंत रिलीफ मिलेगा। काली मिर्च का इस्तेमाल करने से आप पेट की परेशानियों से काफी हद तक बचे रहोगे।

यह भोजन से मिलने वाले न्यूट्रींस को शरीर में पूरी तरह पहुंचाने में मदद करती है। और इसका बाहर का छिलका चर्बी को तोड़ने का काम करता है। यह एक्स्ट्रा कैलेरी को बर्न कर हमें एनर्जी देने के साथ-साथ हमारी फैट को कम करती है। और वजन कम करने में मदद करती है। इसीलिए इसे फैट बर्नर भी कहा जाता है।

कैंसर से बचाव:

काली मिर्च के फायदे मे अगर हम बात करेतो उसके छोटे छोटे दाने हमें कैंसर जैसी बीमारियों से बचाने में पूरी तरह सक्षम है। इस में पाए जाने वाला पेपर रिंग कंटेंट कैंसर सेल्स की ग्रोथ को रोकता है। और इसके एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स के डैमेज को कम कर कैंसर से हमारा बचाव करते हैं।

आवाज मे मधुरता:

मधुर वाणी या आवाज में मिठास चाहिए तो काली मिर्च का सहारा ले। 3- 4 दाने काली मिर्च के हल की आंच पर तवे पर भूने और उसका पाउडर बना ले। पाउडर को एक चम्मच शहद में मिक्स करके चाटे। हर रोज इस मिक्सचर को लेने से आवाज में मधुरता आएगी और कोल्ड और कफ से बचाव रखेगा।

कोन से तत्व पाये जाते है?

काली मिर्च में विटामिन-C, विटामिन-K, मैग्नीशियम, पोटेशियम और आईरन यह भी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं।

सांस लेनेमे दिक्कत:

कोल्ड और कफ के दौरान जब रेस्पिररेटीड ट्रैक में बलगम जम जाती है। सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में काली मिर्च को शहद के साथ मिक्स करके लिया जाए तो यह बलगम को बाहर निकालती है। जिससे इंसान चैन की सांस ले पाता है।

इंफेक्शन से बचाव:

काली मिर्च हमारे इम्यून सिस्टम को भी स्ट्रॉन्ग करता है। काली मिर्च और शहद की एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज हमें इंफेक्शन से होने वाली बीमारियों से लड़ने में मदद करती है।

दिमाग को एक्टिव रखना:

काली मिर्च के फायदे मे अगर इसको रेग्युलर इस्तेमाल किया जाए तो यह दिमाग की प्रॉपर फंक्शनिंग में मदद करती है। और डिप्रेशन नहीं होने देती। रिसर्च में पाया गया है कि, काली मिर्च में जो पेपर रीन कंटेंट है वो दिमाग में केमिकल को स्टिम्युलेट करके मेमोरी लॉस के चांसीस को कम करता है। और दिमाग की क्लियारीटी को बढ़ाता है। तो जो लोग भूलने की बीमारी से परेशान है, उनके लिए काली मिर्च काफी फायदेमंद हो सकती है।

दांत के लिए फायदेमंद:

काली मिर्च के दानों को चबाने से दांत खराब नहीं होते। दातों में किया नहीं लगता और दर्द में भी आराम मिलता है।

काली मिर्च दिल की दोस्त:

काली मिर्च हमारी दिल की भी अच्छी दोस्त है। यह आर्टस्ट्रीट की वॉल से अक्सर कोलेस्ट्रोल को दूर करके आर्टस्ट्रीट को साफ रखती है। जिससे दिल का दोहरा और स्ट्रोक का खतरा कम होता है।

तव्चा के निखार के लिए:

काली मिर्च के फायदे मे हम अगर बात करेंगे तो वह हमारी त्वचा के लिए भी अच्छी है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट प्रीमेच्योर एजिंग के कारण होने वाले रिंकल्स और काले धब्बों से हमारा बचाव करते है। और इसका रेग्युलर इस्तेमाल हमारी त्वचा की क्वालिटी को इंप्रूव करता है।

तव्चा मे कैसे लगाए?

काली मिर्च के सेवन से पसीना अधिक आता है। और यूरिनेशन भी अधिक होती है। जिससे शरीर के स्टॉक चेंज बाहर निकलते हैं। और शरीर को अंदर से साफ रखती है। जिसका त्वचा पर भी असर पड़ता है। इसे खाने के अलावा त्वचा पर भी लगा सकते हैं। दो चम्मच दही में एक चौथाई चम्मच दरदरी पिसी हुई काली मिर्च मिक्स कर स्क्रब बना ले।

उसे हल्के हाथ से सर्कुलर मूवमेंट में घुमाते हुए क्लीन फेस पर 1 मिनट तक लगाइए। और ठंडे पानी से मुंह को धो ले इसे आप फेस पर लगाने से पहले हाथ पर लगाकर टेस्ट भी कर सकते हो। स्किन पर लगाने से अगर थोड़ी बहुत मिर्ची लगे तो ठंडे पानी से धो कर बर्फ को घिस लें। यह स्क्रब चेहरे पर चमक लाता है और ब्लड सरकुलेशन को इंप्रूव कर चेहरे को निखारने का काम करता है। काली मिर्च की एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज एक्मे के बैक्टीरिया के वार को रोक कर स्किन को एक्ने फ्री रखती है।

बाल मजबूत कैसे बनते है?

काली मिर्च के फायदे की हम जो बात कर रहे है तो उसमे हम बालो को कैसे भूल सकते है। यह बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। बालों की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए एक कटोरी दही, एक चम्मच काली मिर्च मिक्स करें और उसे बालों की जड़ों में लगाइए और फिर बिना शैंपू किए हुए बालों को पानी से धो ले और शैंपू के साथ बालों को दूसरे दिन धो ले।

इसकी एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफलामोटरी(anti-inflammatory ) प्रॉपर्टीज ब्लड सरकुलेशन को इंप्रूव कर बालों की ग्रोथ को बढ़ावा देती है। इसे इस्तेमाल करते समय इस बात का जरूर ध्यान रखें कि बहुत क्वांटिटी में इस्तेमाल नहीं करना है। चेहरे पर लगाते समय इसको आंख और नाक के पास में नहीं लगाना  और जिसे काली मिर्च से एलर्जी हो उन्हें इसे अवॉइड ही करना चाहिए।

जिन्हें यह सूट नहीं करती वह इसे खाने से बचें वरना खुजली या सूजन जैसे सिमटम्स दिखाई दे सकते हैं। और काली मिर्च के फायदे चाहते हो तो इसे बहुत अधिक मात्रा में ना खाकर मॉडरेट क्वांटिटी में खाया जाए तो यह फायदेमंद है।

स्टोर करना:

काली मिर्च को आप लंबे समय तक स्टोर कर सकते हो। लेकिन पाउडर पेपर 3 महीने के अंदर अंदर कंज्यूम कर लेनी चाहिए। तो आखिर मे मेतों यही कहूँगा की काली मिर्च के फायदे अगर आपको चाहिए तो इसे भी अपने डाइट का हिस्सा बनाइए जूस, छास, दाल, सब्जी, चावल, सलाद, पास्ता किसी में भी डाल कर खाए लेकिन खाइए जरूर।

होम पेजयहाँ क्लिक करें

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment

Your email address will not be published.